हैदराबाद विश्वविद्यालय के चिकित्सा विज्ञान संकाय में सह-प्रोफेसर डॉ. अनीता सी.टी. को अन्न, पोषण, स्वास्थ और जल, सफाई, स्वच्छता (FNHW) विषय के लिए नेशनल रिसोर्स पर्सन के रूप में पैनलबद्ध किया गया है. इस योजना के अधीन विभिन्न राज्य ग्रामीण आजीविका मिशनों को वे अपनी बहुमूल्य सेवाएँ प्रदान करेंगी और अपनी विशेषज्ञता और अनुभव को उनसे साझा करेंगी. हैदराबाद विश्वविद्यालय के प्रो. बी.आर. शामण्णा भी पैनलबद्ध व्यक्तियों में से एक हैं.

राष्ट्रीय ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज संस्थान केन्द्रीय ग्रामीण विकास मंत्रालय के अंतर्गत एक स्वायत्त शासी संस्था है जो इस क्षेत्र के राष्ट्रीय महत्व वाली सर्वश्रेष्ठ संस्थाओं में से एक है. यह मंत्रालय दीनदयाल अंत्योदय योजना के अंतर्गत राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन चला रहा है जो गरीबी निर्मूलन एवं महिला सशक्तीकरण के लिए महिलाओं के स्वयं सहायता समूहों को आगे बढ़ाता है. निरंतर गरीबी का एक महत्वपूर्ण कारण है स्वास्थ्य एवं पोषण की कमी. स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं के निदान के लिए अक्सर ऋण लिए जाते हैं और उन्हें चुकाने के लिए आजीविका के लिए अलग रखी गई निधियों का इस्तेमाल होता है.

चुनिंदा शहरों से लिया गया एनआरएलएम का डाटा भी इस तथ्य की पुष्टि करता है. FNHW महिलाओं एवं उनके परिवारों को बेहतर स्वास्थ्य और पोषण देने की दिशा में कार्यरत है.

Powered By Indic IME