दि. 14 अप्रैल, 2017 को डॉ. बाबासाहेब आंबेडकर की 126वीं जयंती पर हैदराबाद विश्वविद्यालय ने उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की. प्रशासन भवन में भारत के संविधान निर्माता को प्रो. अप्पा राव पोदिले, कुलपति; श्री. देवेश निगम, कुलसचिव, प्र.; प्रो. पी. प्रकाश बाबू, डीन, छात्र कल्याण; श्री. वरदराजन, पुस्तकालय अध्यक्ष, इं.गाँ.स्मा.पु.; संकाय सदस्य, अधिकारी और कर्मचारी वर्ग तथा छात्रों ने श्रद्धांजलि अर्पित की.

DSC07597

प्रो. अप्पा राव ने कहा कि डॉ. आंबेडकर द्वारा किया गया योगदान भारतीयों के मन-मस्तिष्क में अंकित है. आपका जीवन सामाजिक न्याय के प्रति अभूतपूर्व संकल्प और प्रतिबद्धता का प्रतीक है. वे एक सफल वकील, दूरद्रष्टा, विद्वान, लेखक एवं बुद्धिजीवी थे, जिन्होंने अपना समस्त जीवन निस्वार्थ रूप से देश की सेवा में लगा दिया. प्रो. अप्पा राव ने कहा कि हम प्रण करें की डॉ. आंबेडकर के सपनों का भारत सच कर दिखाएँगे, ऐसा भारत जिस पर उन्हें गर्व होता.

DSC07601

महान समाज सुधारक डॉ. आंबेडकर का जन्म 14 अप्रैल, 1891 को मध्य प्रदेश के महू में हुआ. आपने अपना पूरा जीवन समाज के वंचित वर्गों के उत्थान के लिए अर्पित किया. संविधान-प्रारूप समिति के सदस्य के रूप में आंबेडकर जी ने प्रत्येक नागरिक की नागरिक स्वतंत्रता एवं संरक्षण के व्यापक आयामों को संवैधानिक गारंटी का रूप दिया. इसमें, धर्म की स्वतंत्रता का अधिकार, अस्पृश्यता का निर्मूलन और भेदभाव की हर पद्धति को समाप्त करना शामिल है.

Powered By Indic IME