p_20161209_162112

रसायन विज्ञान संकाय, हैदराबाद विश्वविद्यालय ने 9 दिसंबर, 2016 को सी.आर. राव संस्थान के सभागार में मैक्स प्लैंक इंस्टीट्यूट फॉर पॉलीमर रिसर्च मैंज, जर्मनी के प्रोफेसर क्लाउस मुलेन द्वारा ‘A Polymer Chemistry of Graphenes and Graphene Nanoribbons’ पर एक विशिष्ट व्याख्यान का आयोजन किया.

प्रो. क्लाउस ने अपने व्याख्यान के दौरान कहा कि, कार्बन सामग्री, विशाल व्यावहारिक महत्व की है लेकिन अकसर इसे ‘black stuff’ (काला सामान) कहकर संरचनात्मक रूप से इसे ख़राब ढंग से परिभाषित किया गया है.

रसायन विज्ञान संकाय के संकायाध्यक्ष प्रो. एम. दुर्गा प्रसाद ने अतिथि का स्वागत किया, जबकि रसायन विज्ञान संकाय के संकाय सदस्य डॉ. चंद्रशेखर ने अतिथि का परिचय दिया. इस कार्यक्रम में विश्वविद्यालय के शिक्षक, छात्र और कर्मचारियों ने भाग लिया.

2

वक्ता के बारे में

क्लाउस मुलेन 1989 में मैक्स प्लैंक सोसायटी के मैक्स प्लैंक इंस्टीट्यूट फॉर पॉलीमर रिसर्च (MPIP) में एक निदेशक के रूप में शामिल हुए थे. फिलहाल वे MPIP के एमिरेट्स निदेशक के रूप में कार्यरत हैं. आपने अपनी पीएच.डी. की उपाधि 1972 में बेसल विश्वविद्यालय द्वारा प्रप्त की. आपने ETH, ज्यूरिख से 1977 में अपनी पोस्ट-डॉक्टोरल उपाधि प्राप्त की. 1979 में आप कोलोन विश्वविद्यालय और 1983 में जोहानिस-गुटेनबर्ग विश्वविद्यालय, मेंज में प्रोफेसर बन गए. अब तक आपने लगभग 60 पेटेंटो को अपने नाम कर लिया है. 125 एच-सूचकांक के साथ आपने 1700 से अधिक शोध-पत्र प्रकाशित किए हैं.

आप मैक्रोमोलेक्युलर केमिस्ट्री एंड फिजिक्स; जर्नल ऑफ़ मैटेरियल्स केमिस्ट्री; जर्नल ऑफ़ मैक्रोमोलेक्युलर साइंस; प्योर एंड एप्लाइड केमिस्ट्री; केमिस्ट्री ऑफ़ मैटेरियल्स; केमिस्ट्री लेटर्स; केमिस्ट्री वर्ल्ड; एकाउंट्स ऑफ केमिकल रिसर्च; मैक्रोमोलेक्यूल्स – भारतीय जर्नल; बायोकेमिस्ट्री – भारतीय जर्नल; केमिस्ट्री – एशियाई जर्नल; बायोनैनोमटेरिअल्स आदि के संपादकीय बोर्ड सदस्य हैं. इसके अतिरिक्त सिंथेटिक मेटल्स, पॉलीमर बुलेटिन और जर्नल ऑफ़ द अमेरिकन केमिकल सोसाइटी के एसोसिएट एडीटर हैं.

आपने द जर्मन केमिकल सोसाइटी और जर्मन एसोसिएशन फॉर द एडवांसमेंट ऑफ़ साइंस एंड मेडिसिन के अध्यक्ष के रूप में भी सेवा की थी. आपको अनेक मानद डॉक्टरेट, प्रोफेसरशिप और लेक्चररशिप से सम्मानित किया गया है. सीनेट ऑफ़ द मैक्स प्लांक सोसायटी, यूरोपियन एकेडमी ऑफ साइंसेज, इजराइल केमिकल सोसाइटी, जर्मन एकेडमी लेओपोल्डीना, नॉर्थ राइन वेस्टफेलियन अकादमी फॉर आर्ट्स एंड साइंसेज, अमेरिकन एकेडमी ऑफ आर्ट्स एंड साइंसेज, और स्पिनोज़ा सिलेक्शन कमिटी ऑफ़ द नेदरलॅंड्स आदि के सक्रिय सदस्य हैं.

Powered By Indic IME