हैदराबाद विश्वविद्यालय, रसायन विज्ञान संकाय के प्रो. अनुनय सामंत भारतीय राष्ट्रीय विज्ञान अकादमी (आईएनएसए), नई दिल्ली द्वारा प्रोफेसर सदन बसु स्मारक व्याख्यान (2017) के लिए चयनित किए गए हैं.

अकादमी के विशिष्ट फेलो प्रोफेसर सदन बासु की स्मृति में स्थापित इस व्याख्यान पुरस्कार को ‘केमिकल साइंस में उत्कृष्ट योगदान’ के लिए हर तीन वर्षों में एक बार प्रदान किया जाता है. इस पुरस्कार के तहत चयनित व्याख्याता को मानदेय के साथ प्रशस्ति पत्र दिया जाता है. प्रो. सामंत इस पुरस्कार को प्राप्त करने वाले आठवें व्यक्ति हैं. इस पुरस्कार एवं व्याख्यान को प्रो. बसु के कार्यस्थल कलकत्ता विश्वविद्यालय में दिया जाएगा.

प्रो. सामंत ने इंडियन एसोसिएशन फॉर द कल्टीवेशन ऑफ साइंस (आईएसीएस) से पीएच.डी. (1987) और रेडिएशन लैबोरेटरी, नोट्रे डेम विश्वविद्यालय, संयुक्त राज्य अमेरिका में कुछ वर्षों के लिए पोस्टडॉक्टरल असाइनमेंट में करने के पश्चात हैदराबाद विश्वविद्यालय 1990 में लेक्चरर के रूप में शामिल हुए. तत्पश्चात आप 2001 में प्रोफेसर बने. फिलहाल आप परिष्कृत एकल अणुओं तथा अल्ट्राफास्ट स्पेक्ट्रोस्कोपिक तकनीकों पर शोध कर रहे हैं. आपके द्वारा आयनिक तरल पदार्थों पर किया गया अग्रणी अनुसंधान कार्य विश्वव्यापी मान्यता प्राप्त है. आपने 44 के एच-इंडेक्स के साथ लगभग 6400 के कुल उद्धरण तथा 160 से अधिक शोध-पत्र प्रकाशित किए हैं.

आप अनेक पुरस्कारों एवं फैलोशिप से सम्मानित किए गए हैं. उनमें कुछ इस प्रकार हैं – भारत के सभी तीन राष्ट्रीय विज्ञान अकादमियों के फेलो के रूप में, थॉमसन रायटर्स का इंडिया साइटेशन अवॉर्ड (2012), जेएसपीएस-डीएसटी का रमन-मिज़ुशिमा व्याख्याता पुरस्कार (2014), भारतीय रसायन अनुसंधान सोसाइटी का रजत पदक (2015), जे.सी. बोस नेशनल फैलोशिप (2010-2020), और डीएसटी की रामन्ना फैलोशिप (2007 – 2010), दिल्ली विश्वविद्यालय का आर.पी. मित्रा स्मारक व्याख्यान पुरस्कार (2017), जवाहरलाल नेहरू उन्नत वैज्ञानिक अनुसंधान केंद्र का ए.वी. रामाराव फाउंडेशन व्याख्यान पुरस्कार (2015), जादवपुर विश्वविद्यालय का के.के. रोहतगी मुखर्जी स्मारक व्याख्यान पुरस्कार (2010) इत्यादि.

प्रो. सामंत ने फिजिकल केमिस्ट्री ए, बी, सी और जर्नल ऑफ़ फिजिकल केमिस्ट्री लेटर्स (अमेरिकी केमिकल सोसायटी की पत्रिकाएँ) के संपादकीय सलाहकार बोर्ड में सेवा की. प्रो. सामंत 2013 के बाद से यूजीसी के संकाय अनुसंधान संवर्धन योजनाओं के राष्ट्रीय समन्वयक हैं और डीएसटी (2013 से) और सीएसआईआर (2015 से) के फिजिकल तथा इनार्गेनिक केमिस्ट्री परियोजना सलाहकार समिति के सदस्य भी. आप भारतीय राष्ट्रीय विज्ञान अकादमी की कार्यवाही के संपादक (केमिस्ट्री) के रूप में भी काम कर रहे हैं.

Powered By Indic IME