गुरुवार 6 जून, 2019 को माननीय उपराष्ट्रपति श्री एम. वेंकैया नायडू ने हैदराबाद विश्वविद्यालय (UoH) में ई-लर्निंग सेंटर द्वारा स्थापित डिजिटल वेलनेस वेबसाइट का उद्घाटन करते हुए कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में छात्रों के लिए गुणवत्तापूर्ण ऑनलाइन पाठ्यक्रम शुरू करना एक वरदान साबित हो सकता है क्योंकि प्रौद्योगिकी की पहुँच को देखतु हुए इसका उपयोग लोगों के सशक्तीकरण के लिए किया जा सकता है. उन्होंने स्तरीय और समयोचित ऑनलाइन पाठ्यक्रम शुरू करने में विश्वविद्यालय द्वारा किए जा रहे प्रयासों की सराहना की. आगे उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालय अपनी गतिविधियों का विस्तार करने के लिए भव्य और प्रशंसनीय योजनाएँ बना रहा है.

डिजिटल वेलनेस वेबसाइट को सभी आयु समूहों के इंटरनेट उपयोगकर्ताओं को डिजिटल लाभों के बारे में शिक्षित करने के लिए बनाया गया है, जिससे उनके शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य पर कोई प्रतिकूल प्रभाव न पड़े. वेबसाइट को अंतर्राष्ट्रीय संघ के गतिविधि अभियान के हिस्से के रूप में स्थापित किया गया था. ई-लर्निंग सेंटर सूचना नैतिकता और डिजिटल कल्याण पर जागरूकता फैलाने में विदेश के चार अन्य विश्वविद्यालयों के साथ शीर्ष पर है. ई-लर्निंग सेंटर इलेक्ट्रॉनिक और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय (MEITY) के सहयोग से अपनी गतिविधियों का विस्तार करना चाहता है जिससे साइबर उपयोगकर्ताओं को विभिन्न स्क्रीन के बारे में सूचित, शिक्षित कर इस अभियान का हिस्सा बनाया जा सके ताकि वे अपने मानसिक और शारीरिक स्वास्थ्य और सुरक्षा का ख्याल रख सकें.

ई-लर्निंग सेंटर के निदेशक प्रो. जे. प्रभाकर राव ने बताया कि इस केंद्र ने मानव संसाधन विकास मंत्रालय (MHRD) को एक विश्वस्तरीय डिजिटल लर्निंग अध्ययन, प्रशिक्षण और संसाधन केंद्र स्थापित करने के लिए एक विस्तृत परियोजना प्रस्ताव प्रस्तुत किया है. केंद्र द्वारा सभी वर्गों तक पहुंच बढ़ाने के और अच्छे गुणवत्तापरक ऑनलाइन पाठ्यक्रम चलाने के लिए नवीनतम तकनीक के उपयोग में सहायता के लिए राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कई शैक्षणिक और उद्योग करार किए जा चुके हैं.

कुलपति प्रो. अप्पा राव पोदिले ने उद्घाटन-सत्र की अध्यक्षता की तथा इसमें नीति आयोग के सदस्य डॉ. वी. के. सारस्वत भी उपस्थित थे.

वेबसाइट का पता – http://dw.elcuoh.in/

Powered By Indic IME