हैदराबाद विश्वविद्यालय (यूओएच) द्वारा 6 साल पहले शुरू किए गए ऑनलाइन न्यूज़लेटर ‘हेराल्ड’ ने 2000 से भी अधिक पोस्टिंग्स प्रकाशित करके एक और उपलब्धि हासिल की है. यह न्यूज़लेटर जनवरी 2013 में आरंभ किया गया और अगस्त माह के पहले सप्ताह तक इसमें 2163 आलेख प्रकाशित हो चुके हैं. विश्वविद्यालय का द्विभाषी न्यूज़लेटर देश की किसी भी केंद्रीय संस्था द्वारा चलाए जाने वाले पत्रों में अनोखा है.

जनसंपर्क कार्यालय ने पहले पहल इस योजना को आगे बढ़ाया कि मुद्रित संस्करण के स्थान पर ऑनलाइन न्यूज़लेटर प्रकाशित किया जा सकता है और इस काम में विश्वविद्यालय के संचार विभाग का पूरा सहयोग मिला. तत्कालीन कुलपति महोदय ने अविलंब इस विचार को स्वीकार किया और दिसंबर 2012 से तीन हफ्तों तक वर्ड प्रेस में इसका ऑनलाइन संस्करण चलाया गया. इसकी सफलता के बाद जनवरी 2013 से ‘हेराल्ड’ नियमित रूप से प्रकाशित होने लगा.

न्यूज़लेटर के आकर्षक द्विभाषी लोगो को सभी ने पसंद किया. इसमें लगभग हर दिन कोई न कोई नई खबर प्रकाशित होती है. कई पूर्व और वर्तमान छात्रों ने हैदराबाद विश्वविद्यालय में अपने अनुभवों और उपलब्धियों के बारे में लिखना शुरू किया. राजभाषा अधिनियम के अनुसार यह ऑनलाइन न्यूज़लेटर द्विभाषी रूप में प्रकाशित होने वाला अपनी तरह का इकलौता न्यूज़लेटर है. इस कार्य में हिंदी कक्ष का योगदान सराहनीय है.

इसमें विशेष व्याख्यान, फैकल्टी सम्मान, छात्र उपलब्धियाँ, दौरे, पुस्तक विमोचन और अन्य गतिविधियाँ जैसे वर्गीकरण हैं. अपने पूर्व छात्रों की अभिव्यक्ति के माध्यम के रूप में हम ‘हेराल्ड’ को देखते हैं और आशा करते हैं कि वे आगे भी अपने जीवन के अनुभव और सफलताएँ हमारे साथ साझा करेंगे जिससे कई छात्रों को प्रेरणा मिलेगी.

इस कार्य में हमें संचार विभाग द्वारा प्रत्येक सेमेस्टर में नामित छात्रों द्वारा बहुमूल्य सहयोग मिलता है – सौम्या पी., हारिका वी., निधि गुप्ता, जोएल पाएस, प्रियंका मणिकंदन, शाइमा मंसूर, सीएच. संदीप मनोहर, दोनिता जोस, बी. कार्तिक, प्रियंका आर., जागृति डी. मोनिका तिवारी, स्वाति पंत, ज़ीनत शना, आर. सिद्धार्थ, लोकेश नायक, उज्ज्वला कौमुदि, कुमार आशीष, अभिजित देबनाथ, ईशान मुखर्जी और अबु सलेह आदि का विशेष उल्लेख और अभिनंदन.

यूओएच हेराल्ड द्वारा विश्वविद्यालय में चल रही विविध गतिविधियों के बारे में एक नज़र में जानकारी प्राप्त की जा सकती है. यहाँ पर प्रकाशित होने वाली प्रत्येक सूचना सोशल मीडिया के अन्य मंच जैसे फेसबुक, ट्विटर आदि पर भी साझा की जाती है, जिससे इसके पाठकों की संख्या में कई गुना बढ़ोतरी होती है. दुनिया में कहीं से भी कंप्यूटर के एक क्लिक मात्र से हम न्यूज़लेटर ‘हेराल्ड’ के माध्यम से कई जानकारियाँ प्राप्त कर सकते हैं.

आप भी यूओएच हेराल्ड (http://uohherald.commuoh.in) के लिए ईमेल (pro@uohyd.ac.in) से योगदान कर सकते हैं.

Powered By Indic IME