हैदराबाद विश्वविद्यालय के नृत्य विभाग के प्रो. रामलिंगा शास्त्री का नाम उन 44 कलाकारों में शुमार है जिन्हें संगीत नाटक अकादमी ने रंगमंच कला को उनके योगदान के लिए पुरस्कृत किया है.

संगीत नाटक अकादमी पुरस्कार रंगमंच कला के क्षेत्र में दिया जाने वाला सर्वोच्च पुरस्कार है. इस पुरस्कार में ₹1,00,000 रुपये, प्रमाणपत्र, अंगवस्त्र (शॉल) और ताम्रपत्र प्रदान किया जाता है.

प्रो. रामलिंगा शास्त्री पिछले दो दशकों से हैदराबाद विश्वविद्यालय के युवा छात्रों को भरतनाट्यम नृत्यपद्धति की शिक्षा दे रहे हैं. आप 1991 में व्याख्याता के रूप में विश्वविद्यालय से जुड़े और 1998 में रीडर बने. संप्रति वे नृत्य विभाग में प्रोफेसर पद पर कार्यरत हैं.

Powered By Indic IME